शुक्रवार, 5 मई 2017

बात की बात – ज्योतिष

बात  की बात – ज्योतिष
 कहते हैं ज्योतिष एक विज्ञान है |पर उल्लू बनने-बनाने के चांस भी इसी में ज्यादा हैं |एकज्योतिषी ने तो यहाँ तक कह दिया था | जब तक अन्धविश्वासी इस धरती पर रहेंगें तब तक कोई माई  का लाल हमारा धंधा चौपट नहीं कर सकता | अब आप ही देख लीजिए | बनारस से शिक्षा प्राप्त ज्योतिषाचार्य एवं कथावाचक  पंडित पकड़ चंद जी ने मोहल्ले की तीन बेटियों की शादी के लिए आए  रिश्ते हेतु कुंडली मिलन की | तीनों की शादी भी संपन्न करवायी |तीन में में से दो का वैवाहिक जीवन असफल रहा | वे शादी के दो माह बाद ही घर आकर बैठ गयी |हमने इस पर उनसे सवाल किया – ‘’ आप तो ज्योतिष के बड़े अंधभक्त हैं , कहतें हैं ज्योतिष कभी गलत नहीं होता , फिर ये दो बेटियाँ ....|’
‘’ सब प्रभु की माया है ,उसके आगे किसकी चली है |’’
‘’ जब सब प्रभु की माया है उसके आगे किसी की नहीं चलती तो ज्योतिष की माया का जाल दूसरे पर फेंक कर आप लोग अपनी क्यों चलाते हैं  ....|
‘’पेट चलाने के लिए प्रभु की दी माया है , और का कहें |


     सुनील कुमार ‘’सजल’’